एनएच नारायणा सुपरस्पेशलिटी अस्पताल, हावड़ा ने एक साल में 100 रोबोटिक सर्जरी पूरी की

कोलकाता। एनएच नारायणा सुपरस्पेशलिटी अस्पताल, हावड़ा ने चिकित्सा के क्षेत्र में एक नया इतिहास कायम किया है। दरअसल अस्पताल ने केवल एक साल के भीतर चौथी पीढ़ी के दा विंची की तकनीकी (4th generation Da Vinci technology)की  सहायता से सफलतापूर्वक 100 रोबोटिक सर्जरी पूरी कर उन्नत चिकित्सा उपचार के क्षेत्र में एक बड़ा मुकाम हासिल किया है। खास बात यह है कि इस तकनीक की सहायता से सर्जरी करने पर कम रक्त हानि, कम दर्द और तेजी से ठीक होने के लिए उन्नत प्रक्रिया मानी जाती है। अस्पताल की तरफ से आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में इस बाबत जानकारी दी गई। डॉ. सुमन मल्लिक ने बताया कि यह हमारे लिए केवल एक कदम है क्योंकि हम बेहतर और अधिक लाभकारी स्वास्थ्य तकनीकों को लाने के लिए खुद को समर्पित करेंगे। कैंसर के लिए उपलब्ध पारंपरिक उपचारों के अनुसार, कई मामलों में ट्यूमर को हटाने के लिए सर्जिकल इनवैशन की आवश्यकता होती है। हालांकि सर्जरी को दर्दनाक प्रक्रियाओं में से एक माना जाता है लेकिन हाल के दशक में 3डी विज़ुअलाइज़ेशन के साथ, न्यूनतम इनवेसिव तकनीक और तेजी से रिकवरी रोबोटिक सर्जरी ने इस विचार को बदल दिया है। इस दृष्टि को आगे बढ़ाने के प्रयास में हाल ही में नारायणा सुपरस्पेशलिटी अस्पताल, हावड़ा ने कैंसर देखभाल में उन्नत उपचार के लिए चौथी पीढ़ी के दा विंची की तकनीकी रोबोटिक सर्जरी की शुरुआत की। टीम में डॉ कौस्तव बसु, डॉ तरुण जिंदल, डॉ सुमित सान्याल, डॉ सुमन मलिक शामिल हैं। नारायणा हेल्थ के उत्तर और दक्षिण  के क्षेत्रीय सीओओ आर.वेंकटेश के ने कहा कि हम अपने वचन के अनुसार आगे बढ़े जा रहे हैं। कैंसर देखभाल में रोबोटिक सर्जरी टीम के सभी अनुभवी और कुशल सर्जनों ने रोबोटिक सर्जरी  के साथ कैंसर के उन्नत और केंद्रित उपचार के बारे में चर्चा की। इसके साथ ही लोगों में अधिक से अधिक जागरूकता पैदा करने के लिए उन्नत रोबोटिक सर्जरी के साथ गाइनी कैंसर, यूरो कैंसर, जीआई कैंसर आदि के लक्षित अंग विशिष्ट उपचार पर एक अन्य चर्चा भी आयोजित की गई।